Teri hi tamanna hai

इस रुह को समझने की कोशिश तो कर,तेरी है। तेरी ही रहेगी, चाहे कितने भी सितम कर ले तेरी चौखट पर आई हु बस यही की हो कर रहुगी

Tum hamare na hui

तेरी आखौ मे तसवीर किसी और की,तेरे दिल मे आरजू किसी गैर की,मेरी काली रातो के तुम चांद थे, पर इस चांद की चादनीँ कोई और थी

Tum mere khuda

तेरी तसवीर को पुजती हु तेरे इशक को इबादत समझा मैने, अब इसमे खता कया है मेरी जब तुझे खुदा समझा मैने

Tanhaiyo mei hamari yad ayegi

सब छोड़ के आए तेरी महफिल मे, सोचा कोई तो अपना होगा, पर हम ही नादान थे  जो ये ना समझ पाए कि तूम तो खुद ही तनहाई के डर से महफिल सजाए बैठे हो

Hum hi nadan thei

कयु हर मौहबत नाकाम रहती है, कयु हर किससा अघुरा रहता है, कयु महबूब की चौखट सबको नसीब नही होती, तुमने तो बहुत समझाया पर हमे ही कयु दिल टुटने के बाद समझ आया

Tu hi rehnumma

तेरी चाहत मे खुद को फनाह कर दिया, तेरी मौहबत मे सवाहा हो गए, अब ये तेरी मरजी है सनम, राख समझ के उडा दे या माथे पर सजा ले

Bewafaai kyu

तुझसे जनमो का साथ मांगा था हमने, ये ऐसा कया कर दिया तुमनें अगली सांस भी हम लेना नही  चाहते

Tera saya hu mein

अघेंरी राहो मे कभी जब तनहा महसुस करो,तो पलट के देख लेना साया बन हमें पीछे ही आएंगे

 

Sab chor kyu jate hai

मेरे आसुओं के सैलाब मे कही वोह बह ना जाए, उस बेवफा ने किसी और के दिल को अपना ठिकाना बना लिया

Shayari

Translate »